बस्ती: डीएम प्रियंका निरंजन ने शहर के बाहर बस स्टेशन बनवाने का प्रस्ताव भेजने का दिया निर्देश



उत्तर प्रदेश में जनपद बस्ती जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने शहर के बाहर परिवहन निगम का बस स्टेशन बनवाने का प्रस्ताव शासन को भिजवाने का निर्देश दिया है। कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित सड़क सुरक्षा समिति की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि रोडवेज बसों के निरंतर आवागमन से दुर्घटना की आशंका बनी रहती है तथा हमेशा जाम भी लगा रहता है। इसलिए आवश्यक है कि बस स्टेशन को शहर के बाहर बनाया जाए। इसके लिए उन्होंने एआरएम को भूमि का आकलन करते हुए प्रस्ताव शासन को भेजवाने का निर्देश दिया है।

  उन्होंने एआरटीओ को निर्देशित किया कि प्रत्येक माह इस समिति की बैठक बुलाएं। उन्होंने 40 दुर्घटना संभावित स्थानों पर सुधारात्मक कार्रवाई किए जाने का सत्यापन यातायात उपनिरीक्षक, परियोजना निदेशक एनएचएआई तथा पीडब्ल्यूडी के सहायक अभियंता की समिति से कराने का निर्देश दिया है।उन्होंने ईओ नगर पालिका को निर्देशित किया है कि 2 अक्टूबर को कम से कम 2 स्थान पर पार्किंग हेतु स्थल चिन्हित करके वहां पेयजल, प्रकाश एवं शौचालय की व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुए उद्घाटन कराएं।

  उन्होंने जिला अस्पताल के समीप चौराहे पर स्थित बिजली के खंभों को हटाने के लिए अधिशासी अभियंता विद्युत को निर्देशित किया है। उन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि एनिमल कैचर की व्यवस्था करें तथा हाईवे पर घूमने वाले सभी जानवरों को पकड़कर गौशालाओं में रखें। जिले में अच्छे सेमेंरिटन को पुरस्कृत करने मैटेलाई पर असंतोष व्यक्त किया तथा सीएमओ को निर्देशित किया कि सभी 16 प्रकरणों पर 1 सप्ताह के भीतर रिपोर्ट मंगा कर प्रस्तुत करें।

  उन्होंने कहा कि हाईवे पर स्थित सभी सीएचसी एवं थाने से एनएचएआई के अधिकारी निरन्तर समन्वय बनाकर रखें ताकि दुघर्टना के समय घायलों को शीघ्र अति शीघ्र इलाज पहुंचाया जा सके। दुर्घटना होने पर तत्काल मौके पर पहुंचे तथा वाहन पलटने की स्थिति में क्रेन से तत्काल वाहन सीधा कराएं।

  जनपद में संचालित अवैध बस स्टैंड, टेंपो एवं टैक्सी स्टैंड को नियमित किए जाने के संबंध में जिलाधिकारी ने ईओ नगरपालिका को कार्ययोजना प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। साथ ही कार्ययोजना में स्टैंड के लिए शहर के विभिन्न स्थानों पर स्थल का उल्लेख करने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने परिवहन विभाग को निर्देशित किया है कि किसी भी दशा में स्कूली बच्चे ऑटो से या स्वयं स्कूटी चला कर ना जाएं। इसके लिए अभिभावक गोष्ठी में उनको जानकारी दी जाए। 

  उन्होंने अमहट घाट पर अतिक्रमण तथा शराब की दुकान हटाने का भी निर्देश दिया है। बैठक में उन्होंने टैक्सी, टेंपो, बस यूनियन के अध्यक्ष गणों की समस्याओं को भी सुना तथा उसके निराकरण का आश्वासन दिया।

  बैठक में जिला विद्यालय परिवहन सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न हुई। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि प्रत्येक स्कूल में विद्यालययान सुरक्षा समिति गठित की जाए। एआरटीओ पंकज सिंह ने बताया कि जिले में 917 स्कूली वाहन पंजीकृत हैं, जिसमें से 658 ने फिटनेस करा लिया है। शेष 259 के परिवहन पर रोक लगाने की नोटिस दी गई है। उन्होंने कहा कि सभी वाहन चालकों का चरित्र सत्यापन कराया जाना अनिवार्य है। 

 बैठक में डीआईओएस प्रतिनिधि एवं प्रधानाचार्य एसबी सिंह, अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी ए के सिंह, टीएसआई कामेश्वर सिंह, ईओ नगरपालिका दुर्गेश्वर त्रिपाठी, बीएसए इंद्रजीत प्रजापति, सेफ्टी मैनेजर श्याम अवतार शर्मा, एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

theviralnews.info

Check out latest viral news buzzing on all over internet from across the world. You can read viral stories on theviralnews.info which may give you thrills, information and knowledge.

Post a Comment

Previous Post Next Post

Contact Form